हीरे जैसा मोती लाल-लाल

Bhanwar Meghwanshi

हीरे जैसा मोती - लाल लाल !!

सुना है कि भीलवाड़ा में कोई लाल मोती है ,आर टी आई का धंधा करता है ?

उसका नाम ,पता और नम्बर किसी के पास हो तो मुहैया करवाएं ,किसी गैंडा स्वामी का पट्टशिष्य बताया जाता है ।

वैसे तो बेचारा कट्टर अम्बेडकरवादी है ,पर अपनी निजी सगी पत्नी को भूत प्रेत से निजात दिलाने के लिए हर रोज पीर बाबजी की मजार पर धोक लगाता है ।

क्रांतिकारी इतना कि एक बार टेशन पर भगवा जला दिया, पुलिस केस हो गया ,फिर थानेदार के पांव पकड़कर रोया ,तब जा कर छूटा।

कभी कभी दलित आंदोलन चलाता है, जय मूलनिवासी भी करता है पर माइन्स में पार्टनर जैन को रखता है ।

पक्का महिलावादी है ,पहली पत्नी को दहेज के लिए प्रताड़ित किया, केस चला ,दोस्तो की मदद से किसी तरह मुक्त हुआ, दूसरी लड़की को फांसा,शादी का झांसा देकर कुछ समय उसका देह लाभ लिया ,अंत में उसे भी छोड़ा और किसी और का पार्टनर बना ,जिससे सात फेरों के चक्कर लगाये, उसका चक्कर यह है कि उसे भूत बाबजी आते हैं।

मार्केट में मोती बड़ा क्रांतिकारी है, मिशन की बात करता है, बाबा साहब के कारवां को आगे ले जाने का संकल्प करता है, पर व्यस्त रहता है, क्योंकि ज्यादातर टाईम घर मे भूत बनी पत्नी की चरण सेवा में लगा रहता है।

यूँ बड़ा अच्छा लड़का है ,बड़े सामाजिक ठेकेदार का घोषित वारिस है ,आज तक जहां जहां से भी सूचना मांगी ,कार्यवाही नहीं करवाई, तोड़ बट्टा कर लिया ,इसीसे रोजी रोटी चलती है मोती की ।

यह होनहार क्रांतिकारी युवक 7 मई शाम से करेड़ा कस्बे से गायब है, निकटवर्ती गोरधनपुरा के लोग उसकी खोज में लगे हैं, कहीं नजर आये तो जानकारी दीजियेगा।

भैया मोती ,इस तरह नाराज़ नहीं होते ,तुम्हें कोई कुछ नहीं कहेगा ,तुम जिले में अपना " आर टी आई से कमाई " का धंधा आराम से चला सकते हो।

लौट आओ !!

डिस्क्लेमर - इस कथा का किसी भी जीवित ,मृत या मूर्छित ,अर्धमूर्छित मोती लाल नामक व्यक्ति से कोई लेना देना नहीं है, मोती भक्त नाराज होकर खुद को और अपने आका को एक्सपोज न करें ।

Bhanwar Meghwanshi