Video: जोखिम उठाने वाला “आदि”

आदि को ज्यों ही यह अनुमान लग जाता है कि वह ऐसा कर सकते हैं, तब वे बिना डरे वैसा कर गुजरने की इच्छाशक्ति रखते हैं। पार्क में खेलने आते समय उन्होंने कई बार देखा कि सात-आठ वर्ष के बच्चे लकड़ी के इन लाग्स के ऊपर संतुलन बनाते हुए चलते हैं। आदि की इच्छा रहती रही कि वे भी ऐसा करें लेकिन समझ गए कि अभी वे ऐसा नहीं कर सकते हैं। बहुत दिनों से मन ही मन में गुणा-गणित लगा रहे होंगे, चुपचाप आब्जर्व कर रहे होंगे, अपनी शारीरिक क्षमता को नाप-तौल रहे होंगे। दो दिन पहले उनको लगा कि वे ऐसा कर सकते हैं इसलिए जोखिम लिया जा सकता है। वीडियो को देखकर स्वयं ही आनंद लीजिए, आदि की एक नई गतिविधि का, जोखिम लेने के साहस का।