सरदार सरोवर का सार संक्षेप

Vijay Manohar Tiwari [divider style=’full’] मेधा पाटकर को आखिर क्या चाहिए? तीन दशकों से यह औरत सड़कों पर है। हरसूद में 1989 की रैली के समय पहली बार मेधा का नाम देश के स्तर पर सुना गया था। वे इंदिरा सागर बांध की डूब में आ रहे गांवों के मसले को लेकर हरसूद आई थीं। एक बड़ी रैली में देश भर के हजारों सामाजिक कार्यकर्ताओं समेत कई जानी-मानी हस्तियां यहां… Continue reading

मेधा पाटकर का धरना, अमित शाह का आगमन और लोकप्रिय मामा!

Vijay Manohar Tiwari [divider style=’full’] सियासत में अपनी कतई दिलचस्पी नहीं है। सुना ही है कि अमित शाह थोड़े दिन बाद भोपाल आ रहे हैं। वे तीन दिन राजधानी की शोभा बढ़ाएंगे। वे कई राज्यों में पार्टी और सरकारों की हालत पर बात करने के बाद अब मध्यप्रदेश का रुख कर रहे हैं। वे पार्टी कार्यालय में ही रहेंगे। किसी ने बताया कि एक राज्य के मुख्यमंत्री को उनके अफसरों… Continue reading