अस्वीकरण (डिस्क्लेमर)

लेख में विचार लेखक के अपने विचार हैं। ग्राउंड रिपोर्ट इंडिया में प्रकाशित होने का तात्पर्य लेखक के विचारों से ग्राउंड रिपोर्ट इंडिया या संपादक या टीम आदि की सहमत होना नहीं हैं। - संपादकीय टीम

One Comment

  1. anil shukla
    February 16, 2017 @ 23:08

    सच वो भी अद्भुत स्पष्टता के साथ !! पर दुसरी धारा माने तथाकथित वेदांत क्या सचमच “सोची समझी” बुद्ध की चोरी ही है ! आप के विश्लेषण का मैं कायल हो गया !! स्पष्टता और पैनी हुई ! धन्यवाद !!

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to Top